Mata Brahmcharini | Facts And Mantra In Hindi | 2Nd Form Of Navdurga | माता ब्रह्मचारिणी 

द्वितीय नवदुर्गा: माता ब्रह्मचारिणी

द्वितीय नवदुर्गा: माता ब्रह्मचारिणी

नवरात्र पर्व के दूसरे दिन "माता ब्रह्मचारिणी" की पूजा-अर्चना की जाती है | भगवान शिव से विवाह हेतु प्रतिज्ञाबद्ध होने के कारण ये ब्रह्मचारिणी कहलायी | ब्रह्म का अर्थ है तपस्या ओर चारिणी यानीआचरण करने वाली| इस प्रकार ब्रह्मचारिणी का अर्थ हुआ तप का आचरण करने वाली |


नवरात्र  (2nd Day of Navratri): ब्रह्मचारिणी देवी की पूजा नवरात्र के दूसरे दिन की जाती है। चैत्र नवरात्र 2018 में माता की पूजा 19 मार्च को की जाएगी। 
शारदीय नवरात्र 2018 में माता की पूजा 10 अक्टूबर को होगी। 

माता ब्रह्मचारिणी का उपासना मंत्र

दधाना करपद्माभ्यामक्षमालाकमण्डलू।
देवी प्रसीदतु मयि ब्रह्मचारिण्यनुत्तमा॥

माता का स्वरूप


देवी ब्रह्मचारिणी के दाहिने हाथ मे जप की माला है ओर बाए हाथ मे कमंडल है | देवी ब्रह्मचारिणी साक्षात ब्रह्म का स्वरूप है अर्थात तपस्या का मूर्तिमान रूप है | ये देवी भगवती दुर्गा, शिवस्वरूपा, गणेशजननी, नारायनी, विष्णुमाया ओर पूर्ण ब्रह्मस्वरूपिणी के नाम से प्रसिद्ध है|

आराधना महत्व

देवी ब्रह्मचारिणी की उपासना से मनुष्य मे तप, त्याग, वैराग्य, सदाचार, संयम की वृद्धि होती है | जीवन की कठिन समय मे भी उसका मन कर्तव्य पथ से विचलित नही होता है | देवी अपने साधको की मलिनता, दुर्गणो ओर दोषो को खत्म करती है | देवी की कृपा से सर्वत्र सिद्धि ओर विजय की प्राप्ति होती है |

पूजा मे उपयोगी वस्तु

मां भगवती को नवरात्र के दूसरे दिन चीनी का भोग लगाना चाहिए और ब्राह्मण को दान में भी चीनी ही देनी चाहिए। मान्यता है कि ऐसा करने से मनुष्य दीर्घायु होता है। इनकी उपासना करने से मनुष्य में तप, त्याग, सदाचार आदि की वृद्धि होती है।

ब्रह्मचारिणीमाताकीआरती

जय अंबे ब्रह्माचारिणी माता। 
जय चतुरानन प्रिय सुख दाता। 
ब्रह्मा जी के मन भाती हो। 
ज्ञान सभी को सिखलाती हो। 
ब्रह्मा मंत्र है जाप तुम्हारा। 
जिसको जपे सकल संसारा। 
जय गायत्री वेद की माता। 
जो मन निस दिन तुम्हें ध्याता। 
कमी कोई रहने न पाए। 
कोई भी दुख सहने न पाए। 
उसकी विरति रहे ठिकाने। 
जो ​तेरी महिमा को जाने। 
रुद्राक्ष की माला ले कर। 
जपे जो मंत्र श्रद्धा दे कर। 
आलस छोड़ करे गुणगाना। 
मां तुम उसको सुख पहुंचाना। 
ब्रह्माचारिणी तेरो नाम। 
पूर्ण करो सब मेरे काम। 
भक्त तेरे चरणों का पुजारी। 
रखना लाज मेरी महतारी। 

नवदुर्गा के अन्य रूप जानने के लिए यहां क्लिक करें:Navdurga Details in Hindi
जानिएं नवरात्रों के दौराने कैसे करें मां दुर्गा की पूजा: Navratri Puja Vidhi in Hindi
दुर्गा जी के विशेष मंत्र पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें: Devi Durga Mantra in Hindi


लोकप्रिय फोटो गैलरी