नाग पंचमी

नागों को हिन्दू धर्म में अहम स्थान दिया गया है। त्रिदेवों में से एक के गले में स्थान पाने वाले नागों की हिन्दू धर्म में पूजा की जाती है। नागों की पूजा का विशेष पर्व "नाग पंचमी" (Nag Panchami) है। स्कन्द पुराण के अनुसार इस दिन नागों की पूजा करने से भगवान शिव  सारी मनोकामनाए पूर्ण करते हैं।

 


नाग पंचमी (Nag Panchami)

हिन्दू धर्मानुसार श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को नाग पंचमी मनाई जाती है। वर्ष 2018 में नाग पंचमी 15 अगस्त को मनाई जाएगी।

 

कैसे करें नागों की पूजा (Nag Panchami Puja Vidhi in Hindi)


नाग पंचमी के दिन पूजा के कुछ विशेष नियम निम्न हैं:

* इस दिन अपने दरवाजे के दोनों ओर गोबर से सर्पों की आकृति बनानी चाहिए और धूप, पुष्प आदि से इसकी पूजा करनी चाहिए।
* इसके बाद इन्द्राणी देवी की पूजा करनी चाहिए। दही, दूध, अक्षत, जलम पुष्प, नेवैद्य आदि से उनकी आराधना करनी चाहिए।
* तत्पश्चात भक्तिभाव से ब्राह्मणों को भोजन कराने के बाद स्वयं भोजन करना चाहिए।
* इस दिन पहले मीठा भोजन फिर अपनी रुचि अनुसार भोजन करना चाहिए।
* इस दिन द्रव्य दान करने वाले पुरुष पर कुबेर जी की दयादृष्टि बनती है।
* मान्यता है कि अगर किसी जातक के घर में किसी सदस्य की मृत्यु सांप के काटने से हुई हो तो उसे बारह महीने तक पंचमी का व्रत करना चाहिए। इस व्रत के फल से जातक के कुल में कभी भी सांप का भय नहीं होगा।

खीर सेवई रेसिपी / मीठी सेवई खीर

नाग पंचमी के अवसर पर देशभर में भक्तगण भगवान शिव और नाग देवता को दूध का भोग लगाते हैं। इस दिन दूध से बनी चीजें जैसे सेवई, खीर आदि बनाने की परंपरा है। आइये नाग पंचमी के अवसर पर बनाना सीखते हैं आसान सेवई खीर बनाने की विधि।

सेवई खीर बनाने की रेसिपी :

नाम सुनकर आप थोड़ा-सा परेशान अवश्य होंगे कि यह सेवई है या खीर। तो हम आपको बता दें कि यह सेवई की खीर होती है।

सामग्री

सेवई- 100 ग्राम

घी- एक चम्मच

दूध- एक लीटर

काजू- काजू (बारिक टुकड़ों में कटे हुए)

किशमिश- एक चम्मच

इलायची पावडर

चीनी- 100 ग्राम

बादाम- 4- 5 बारीक कटे हुए

सेवई की खीर बनाने की विधि

सबसे पहले एक कड़ाही लें और उसमें घी डालकर सेवईयों को तब तक भूने जब तक कि वह हल्की सुनहरी ना हो जाए। अब इन्हें प्लेट में ठंडा होने के लिए रख दें। अब कड़ाही में दूध उबाले और उसमें यह सेवईयां डाल कर तब तक चलाते रहें जब तक कि दूध में दोबारा उबाल ना आ जाए। दूध और सेवईयां आपस में अच्छे से मिल ना जाए।

अब इसमें चीनी, इलायची पावडर और सभी ड्राई फ्रूट्स डालकर हल्की आंच पर कम से कम पांच मिनट के लिए पकाएं। लीजिएं आपके लिए स्वादिष्ट मीठी सेवइयां खीर तैयार है जिसे आप नाग देवता को भोग लगाकर स्वयं ग्रहण कर सकते हैं।

 

उकडीचे मोदक

महाराष्ट्र में नागपंचमी के अवसर पर एक विशेष व्यंजन बनाया जाता है जिसका नाम है उकडीचे मोदक। आइयें जानें इसे कैसे बनाया जाता है।

उकडीचे मोदक बनाने की रेसिपी

सामग्री:

2 नारियल (कद्दूकस किया हुआ)

एक कप गुड

2 कप चावल का आटा

½ चम्मच  इलायची पाउडर

एक चुटकी नमक

1 चम्मच तेल या घी

मोदक में भरने वाली पिट्ठी बनाने की विधि:

2 नारियल लेकर उन्हें मिक्सी में पीस लें। अब इसमें एक कप गुड़ को गरम करके मिला लें। एक कड़ाही में इस मिश्रण को तब तक गरम करें जब तक की यह मोदक में भरने के लिए थोड़ा गाढ़ा न हो जाए। इसमें इलायची पावडर मिलना ना भूलें। यह एक मनमोहक सुंगध लाती है। लीजिएं आपकी मोदक की पिट्ठी तैयार है।

मोदक बनाने की विधि :

2 कप पानी लें कर उसमें एक चुटकी नमक और एक चम्मच घी या तेल डाल कर गरम कर लें। अब चावल के आटे में इसे मिला कर आटा गूंथ लें।

अब इस आटे  की छोटी-छोटी लोइयां (गेंदें) बना लीजिए। हथेली पर लोइयों को फैलाकर उसमें एक से दो चम्मच पिट्ठी डालें और किनारे को चुटकी से दबा-दबा कर बंद कर दीजिएं।

इसी प्रकार सारे आटे के मोदक तैयार कर लीजिएं। फिर इन्हें 10 से 15 मिनट तक भाप पर पकाएं। लीजिए आपके मोदक तैयार हैं। आप इन्हें तेल में फ्राई भी कर सकते हैं।


लोकप्रिय फोटो गैलरी