होली - रंगों का त्यौहार

नमाज़ का समय

पर्व और त्यौहार

दशहरा

दशहरा

आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को दशहरा मनाया जाता है। सम्पूर्ण भारत में यह त्यौहार उत्साह और धार्मिक निष्ठा के साथ मनाया जाता है। विष्णु जी के अवतार पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »

होली

होली

साल 2018 में होलिका दहन का शुभ मुहूर्त 01 मार्च को शाम 06:16 से लेकर रात 08:47 तक का है  है। अगले दिन 02 मार्च  को रंगवाली होली खेल...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
चैत्र नवरात्र

चैत्र नवरात्र

हिन्दू धर्म में माता दुर्गा को आदिशक्ति कहा जाता है। शक्तिदायिनी मां दुर्गा की आराधना के लिए साल के दो पखवाड़े बेहद महत्त्वपूर्ण माने जाते हैं। यह दो समय होते हैं चैत्र नवरात्र (Chaitra Navratri) और शारदीय ...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
ललिता पंचमी

ललिता पंचमी

हिन्दू पंचांग के अनुसार शक्तिस्वरूपा देवी ललिता को समर्पित ललिता पूर्णिमा आश्विन मास के शुक्ल पक्ष में होने वाले नवरात्री के पांचवें दिन मनाया जाता हैं। इस सुअवसर पर भक्तजन व्रत रखते हैं जिसे ललिता पंचमी व्रत के नाम से जाना जात...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
हरतालिका तीज

हरतालिका तीज

हरतालिका तीज (Hartalika Teej): इस वर्ष हरतालिका तीज 12 सितंबर 2018 मनाई जाएगी। संकल्प शक्ति का प्रतीक और अखंड सौभाग्य की कामना का परम पावन व्रत हरतालिका तीज हिन्दू पंचांग के...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
मकर संक्रांति

मकर संक्रांति

ख़ुशी और समृद्धि का प्रतीक मकर संक्रांति त्यौहार सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करने पर मनाया जाता है। भारतवर्ष के विभिन्न प्रान्तों में यह त्यौहार अलग-अलग नाम और परम्परा के अनुसार मनाया जाता है।

 

मक...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
शारदीय नवरात्र

शारदीय नवरात्र

आदिशक्ति मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की आराधना का पर्व शारदीय नवरात्र हिन्दू पंचांग के अनुसार आश्विन मास के शुक्ल पक्ष में मनाया जाता है। आश्विन शुक्लपक्ष प्रथमा को कलश की स्थापना के साथ ही भक्तों की आस्था का प्रमुख त्यौहार शारदी...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
दिवाली

दिवाली

दिवाली हिन्दू धर्म का मुख्य पर्व है। रोशनी का पर्व दिवाली कार्तिक अमावस्या के दिन मनाया जाता है। दिवाली को दीपावली (Deepawali) के नाम से भी जाना जाता है। मान्यता है कि दीपों से सजी इस रात में लक्ष्मीजी भ्रमण के ल...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
करवा चौथ

करवा चौथ

हिन्दू पंचांग के अनुसार कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को करवा चौथ का व्रत (Karwa Chauth Vrat) किया जाता है। यह पर्व सुहागिन स्त्रियों के लिए बेहद विशिष्ट माना जाता है। इस दिन विवाहित स्त्रियां पति की लम्बी उम्र और स...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
शरद पूर्णिमा

शरद पूर्णिमा

हिन्दू पंचांग के अनुसार आश्विन मास की पूर्णिमा को शरद पूर्णिमा के नाम से जाना जाता है। साल 2018 में शरद पूर्णिमा 23 अक्टूबर को मनाई जाएगी। शरद पूर्णिमा को कोजागरी पूर्णिमा भी कहत...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
गणेश चतुर्थी

गणेश चतुर्थी

हिन्दू पंचांग के अनुसार प्रत्येक वर्ष भाद्रपद मास के शुक्ल चतुर्थी को हिन्दुओं का प्रमुख त्यौहार गणेश चतुर्थी मनाया जाता है। गणेश पुराण में वर्णित कथाओं के अनुसार इसी दिन समस्त विघ्न बाधाओं को दूर करने वाले, कृपा के सागर तथा भग...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
जगन्नाथ पुरी रथ यात्रा

जगन्नाथ पुरी रथ यात्रा

प्रतिवर्ष उड़ीसा के पूर्वी तट पर स्थित श्री जगन्नाथ पुरी में भगवान श्री जगन्नाथ जी की रथ-यात्रा का उत्सव पारंपरिक रीति के अनुसार बड़े धूमधाम से आयोजित किया जाता है। जगन्नाथ रथ उत्सव आषाढ़ शुक्ल पक्ष की द्वितीया से आरंभ करके शुक्ल ...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
जन्माष्टमी

जन्माष्टमी

हिन्दू धर्म के अनुसार भगवान विष्णु जी के पूर्णावतार को ही भगवान श्रीकृष्ण के रूप माना और उनकी पूजा  होती हैं। मान्यता है कि भगवान कृष्ण मा...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
अक्षय तृतीया

अक्षय तृतीया

भविष्य पुराण के अनुसार वैशाख पक्ष की तृतीया तिथि को अक्षय तृतीया कहा जाता है। अक्षय का शाब्दिक अर्थ कभी भी नष्ट न होने वाला है। वैसे तो साल की सभी तृतीया तिथि शुभ होती हैं, लेकिन वैशाख महीने की तृतीया सभी कार्यों के लिए अत्यंत ...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
महाशिवरात्रि

महाशिवरात्रि

शिवरात्रि आदि देव भगवान शिव और मां शक्ति के मिलन का महापर्व है। हिन्दू पंचांग के अनुसार फाल्गुन मास के कृष्ण चतुर्दशी को मनाया जानेवाला यह महापर्व शिवरात्रि (Maha Shivratri) साधकों को इच्छित फल, धन, सौभाग्य, समृद्धि, संतान व आर...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
रक्षाबंधन

रक्षाबंधन

हिन्दू पंचांगानुसार श्रावण मास की पूर्णिमा तिथि को रक्षाबंधन (Raksha bandhan Muhurat) का त्यौहार मनाया जाता है। यह त्यौहार भाई-बहन का एक-दूसरे के प्रति स्नेह, प्यार और अटूट विश्वास का प्रतीक है।

 

र...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
भाई दूज

भाई दूज

भाई दूज की मान्यता (Believe of Bhai Dooj in Hindi)

भैया दूज भारत का एक सबसे प्रमुख और महान त्योहार है जब बहने अपने प्रिय भाइयों के लिए लंबे समय तक जीवित और समृद्ध जीवन प्राप्त करने के लिए भगवान से प्रार...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
नाग पंचमी

नाग पंचमी

नागों को हिन्दू धर्म में अहम स्थान दिया गया है। त्रिदेवों में से एक भगवान शिव के गले में स्थान पाने वाले नागों की हिन्दू धर्म में पूजा क...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
ओणम

ओणम

ओणम, केरल का प्रमुख त्यौहार है। मलयालम कैलेण्डर के अनुसार, चिंगम महीने में थिरुवोणम नक्षत्र होने पर यह त्यौहार मनाया जाता है। वर्ष 2018 में ओणम 24 अगस्त (Onam) को मनाया जाएगा।

&nbs...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
पोंगल

पोंगल

किसानों का त्यौहार पोंगल मुख्य रूप से दक्षिण भारत में मनाया जाता है। चार दिनों तक मनाया जानेवाला यह त्यौहार कृषि एवं फसल से संबंधित देवता को समर्पित है। पारंपरिक रूप से संपन्नता को समर्पित इस त्यौहार के दिन भगवान सूर्यदेव को जो...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
अनंत चतुर्दशी

अनंत चतुर्दशी

श्रद्धालुजनों को संकटों से रक्षा करने वाला अनन्तसूत्र बंधन का त्यौहार अनंत चतुर्दशी हिन्दू पंचांग के अनुसार भाद्रपद मास के शुक्लपक्ष की चतुर्दशी तिथि को मनाया जाता है। इस साल अनंत चतुर्दशी (Anant Chaturdashi) का पर्व 23...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
रामनवमी

रामनवमी

मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम के जन्मदिन के सुअवसर पर चैत्र शुक्ल मास के नवमी तिथि को रामनवमी (Ram Navami) का विशेष पर्व मनाया जाता है।

...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
छठ पूजा

छठ पूजा

भगवान सूर्यदेव के प्रति भक्तों के अटल आस्था का अनूठा पर्व छठ हिन्दू पंचांग के अनुसार कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष के चतुर्थी से सप्तमी तिथि तक मनाया जाता है...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
अन्नकूट

अन्नकूट

दीपावली के अगले दिन कार्तिक शुक्ल पक्ष प्रथमा को अन्नकूट का त्यौहार मनाया जाता है। पौराणिक कथानुसार यह पर्व द्वापर युग में आरम्भ हुआ था क्योंकि इसी दिन भगवान श्री कृष्ण ने गोवर्धन और गायों के पूजा के निमित्त पके हुए अन्न भोग मे...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
जानिए क्या है गुप्त नवरात्र

जानिए क्या है गुप्त नवरात्र

हिन्दू धर्म में नवरात्र मां दुर्गा की साधना के लिए बेहद महत्त्वपूर्ण माने जाते हैं। नवरात्र के दौरान साधक विभिन्न तंत्र विद्याएं सीखने के लिए मां भगवती की विशेष पूजा करते हैं। तंत्र साधना आदि के लिए गुप्त नवरात्र बेहद विशेष मान...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
शनि जयंती

शनि जयंती

शनि जयंती का पावन पर्व ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष की अमावस्या को मनाया जाता है। यह हिन्दू धर्म का विशेष पर्व है। शनि देव को न्याय का देवता माना जाता है। शनि जयंती (Shani Jayanti) के दिन ही सूर्य पुत्र शनि देव का जन्म हुआ था।

&n...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
सूर्य ग्रहण

सूर्य ग्रहण

जब चंद्रमा सूर्य और पृथ्वी के बीच आ जाता है तब सूर्य कुछ समय के लिए चंद्रमा के पीछे छुप जाता है। इसी स्थिति को वैज्ञानिक भाषा में सूर्य ग्रहण कहते हैं। ग्रहण को हिन्दू धर्म में शुभ नहीं माना जाता है।


सूर्...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
नासिक कुंभ मेला

नासिक कुंभ मेला

कुंभ मेला हिंदू धर्म का एक अहम पर्व है। मान्यता है कि 12 वर्षों में एक बार गोदावरी नदी के समीप नासिक और त्र्यंबकेश्वर में दो जगहों पर कुंभ मेले का आयोजन होता है। यहां भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग में से एक त्र्यंबकेश्वर नामक ज्...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
हरियाली तीज

हरियाली तीज

हरियाली तीज श्रावण माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया को रखा जाता है। यह त्यौहार नाग पंचमी के दो दिन पहले मनाया जाता है। यह महिलाओं के मुख्य त्यौहारों में से एक है।...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
गणेशोत्सव

गणेशोत्सव

गणेशोत्सव हिंदू धर्म का एक प्रसिद्ध त्यौहार है। महाराष्ट्र में गणेशोत्सव की सबसे अधिक धूम देखने को मिलती है। यह पर्व महाराष्ट्र का प्रतीक बन चुका है। इसे गणेश महोत्सव भी कहा जाता है। इस दौरान प्रथम पूजनीय भगवान श्री गणेश की विश...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
चंद्र ग्रहण

चंद्र ग्रहण

चंद्र ग्रहण वह स्थिति है जिसमें पृथ्वी, चंद्रमा और सूर्य के बीच आ जाती है। इस स्थिति में चंद्रमा क पूरा या आधा भाग ढ़क जाता है। इसी को चंद्र ग्रहण कहा जाता है।
 
 

चंद्र ग्...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
कैसे करें चतुर्थी पर गणेश स्थापना?

कैसे करें चतुर्थी पर गणेश स्थापना?

गणेश चतुर्थी हिन्दुओं का एक पावन पर्व है। इस दिन विशेष रूप से विघ्ननाशक भगवान गणेश की पूजा का विधान है। यह त्यौहार पूरे 10 दिनों तक बड़े धूम- धाम से मनाया जाता है।  इस साल यह त्यौहार 12 सितंबर, 2018&n...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
विश्वकर्मा पूजा

विश्वकर्मा पूजा

हिन्दू धर्म के अनुसार भगवान विश्वकर्मा निर्माण एवं सृजन के देवता कहे जाते हैं। माना जाता है कि भगवान विश्वकर्मा ने ही इन्द्रपुरी, द्वारिका, हस्तिनापुर, स्वर्ग लोक, लंका आदि का निर्माण किया था। इस दिन विशेष रुप से औजार, मशीन तथा...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
पितृ पक्ष श्राद्ध

पितृ पक्ष श्राद्ध

हिन्दू धर्म में मृत्यु के बाद श्राद्ध करना बेहद जरूरी माना जाता है। मान्यतानुसार अगर किसी मनुष्य का विधिपूर्वक श्राद्ध और तर्पण ना किया जाए तो उसे इस लोक से मुक्ति नहीं मिलती और वह भूत के रूप में इस संसार में ही रह जाता है।&nbs...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
श्राद्ध विधि

श्राद्ध विधि

वर्ष 2017 में पितृ पक्ष  5 सितंबर से 19 सितंबर तक होंगे। इस दौरान पितरों का श्राद्ध किया जाता है। हिन्दू धर्म में मोक्ष की प्राप्ति के लिए पितरों का तर्पण और श्राद्ध करना बेहद आवश्यक माना गया है। वेदों में भी इसके बार...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
धनतेरस

धनतेरस

धनतेरस का त्यौहार कार्तिक कृष्ण त्रयोदशी को मनाया जाता है। इस दिन लोग भगवान धन्वन्तरि की पूजा करते हैं और यमराज के लिए दीप देते हैं। धनतेरस को धनत्रयोदशी भी कहा जाता है। धनतेरस का पर्व आयुर्वेद के देवता के जन्मदिन के रूप में भी...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
तुलसी विवाह

तुलसी विवाह

हिन्दू पुराणों में तुलसी जी को "विष्णु प्रिया" कहा गया है। विष्णु जी की पूजा में तुलसी दल यानि तुलसी के पत्तों का प्रयोग अनिवार्य माना जाता है। इसके बिना विष्णु जी की पूजा अधूरी मानी जाती है। दोनों को हिन्दू धर्म में ...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
धनतेरस

धनतेरस

धन तेरस का महत्व

दिवाली के त्यौहार की शुरुआत धन तेरस से होती है। धन का मतलब पैसा और सम्पति होता है और तेरस कृष्णा पक्ष का तेरवां दिन है। यह कार्तिक मॉस में आता है। हिन्दू समाज में धनतेरस सुख-समृद्धि, यश...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »
सिंहस्थ कुंभ

सिंहस्थ कुंभ

भारत के सबसे महत्वपूर्ण और धार्मिक कार्यक्रमों में एक है कुंभ। साल 2028 में इस पर्व की शुरुआत 21 मई से होगी। उज्जैन (Ujjain) में मनाए जाने वाले यह कुंभ पर्व "सिहंस्थ कुंभ" क...

पूजा विधी » रेसिपि » गाने » और पढ़ें »

लोकप्रिय फोटो गैलरी