मीनाक्षी गायत्री मंत्र - Meenakshi Gayatri Mantra
मंत्र

मीनाक्षी गायत्री मंत्र - Meenakshi Gayatri Mantra

Dharm Raftaar

मीनाक्षी देवी हिन्दू धर्म की देवी हैं। इन्हें माता पार्वती का अवतार और भगवान शिव की अर्धांगिनी माना जाता है। माता मीनाक्षी देवी की पूजा विशेषकर दक्षिण भारत में होती है। इन्हें ललिता देवी के रूप में भी जाना जाता है। देवी को शक्ति और ऊर्जा का प्रतीक माना जाता है। 
मान्यता के अनुसार मीनाक्षी देवी भगवान विष्णु की बहन हैं। इनका सबसे बड़ा मंदिर (मीनाक्षी अम्मन मंदिर) मदुरई में स्थित है। मीनाक्षी गायत्री मंत्र को बल, बुद्ध, विद्या, धन, ज्ञान, सुख-शांति और ऊर्जा प्रदान करने वाला माना जाता है। तो आइए पढ़े मीनाक्षी गायत्री मंत्र -

मीनाक्षी गायत्री मंत्र (Goddess Meenakshi Gayatri Mantra)

ओम उन्नी-थ्रियै च विद्महे,
सुंठ्प प्रियायै च धीमही,
तन्नो मिनाक्षी प्रचोदयात।।

मीनाक्षी गायत्री मंत्र के प्रभाव (Benefits of Meenakshi Gayatri Mantra)
मीनाक्षी गायत्री मंत्र बहुत प्रभावी माना जाता है। यह मंत्र उन अविवाहित कन्याओं के लिए बहुत ही फायदेमंद है जो अच्छा या अपनी इच्छा अनुसार जीवन साथी पाने की कामना करती हैं। इसके अलावा इस मंत्र के प्रभाव से घर में शांति बनी रहती है। इस मंत्र का जाप कोई भी मीनाक्षी देवी का आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए कर सकता है।