gototop
raftaarLogoraftaarLogoM
Search
BG
close button


RaftaarLogo
sasas
Print PageSave as PDFSave as Image

पंचकल्याणकPanchkalyanak

पंचकल्याणक (Panchkalyanak)

पंचकल्याणक पर्व महावीर स्वामी को समर्पित जैन पर्व है। जैन मतानुसार यह पर्व आत्मा से परमात्मा बनने की प्रक्रिया का पर्व है। इस पर्व में अगर कोई जातक प्रत्यक्षदर्शी ना भी हो पाए तो मात्र इस पर्व की कल्पना कर के भी वह विशेष फल का पात्र बन सकता है।

पर्व के प्रकार (Types of Parva in Hindi)

जैनियों का विश्वास है कि तीर्थंकरों के प्रभाव से मनुष्य का जीवन अर्थपूर्ण और सत्य के अधिक निकट हो जाता है। इस पर्व का मुख्य उद्देश्य भी लोगों तक जैन तींर्थंकरों के संदेश को पहुंचाना है।

पंचकल्याणक पर्व में मुख्य मान्यताएँ (Main Assumptions of Panchkalyanak Festival in Hindi)

पंचकल्याणक पर्व में गर्भ कल्याणक समेत अन्य संस्कारों की चर्चा की जाती है। यह संस्कार निम्न हैं:-

    गर्भ कल्याणक
    जन्म कल्याणक
    ताप व दीक्षा कल्याणक
    मोक्ष कल्याणक

Raftaar.in