जैन धर्म पर्व और त्यौहार

श्रुतपंचमी पर्व

श्रुतपंचमी पर्व

श्रुत पंचमी जैन धर्म का प्रमुख त्यौहार है। जैन धर्म के अनुसार इस दिन पहली बार जैन धर्म के ग्रंथ को पढ़ा गया था। मान्यतानुसार पुष्पदंत जी महाराज एवं मुनि श्री भूतबली जी महाराज करीब 2000 वर्ष पूर्व गुजरात के गिरनार पर्वत की गुफाओ...

और पढ़ें »
दशलक्षण पर्व

दशलक्षण पर्व

दशलक्षण पर्व, जैन धर्म का प्रसिद्ध एवं महत्वपूर्ण पर्व है। 'पर्यूषण' पर्व के अंतिम दिन से आरम्भ होने वाला दशलक्षण पर्व संयम और आत्मशुद्धि का संदेश देता हैं। दशलक्षण पर्व साल में तीन बार मनाया जाता है लेकिन मुख्य रूप से ...

और पढ़ें »
पंचकल्याणक

पंचकल्याणक

पंचकल्याणक पर्व महावीर स्वामी को समर्पित जैन पर्व है। जैन मतानुसार यह पर्व आत्मा से परमात्मा बनने की प्रक्रिया का पर्व है। इस पर्व में अगर कोई जातक प्रत्यक्षदर्शी ना भी हो पाए तो मात्र इस पर्व की कल्पना कर के भी वह विशेष फल का ...

और पढ़ें »
चातुर्मास पर्व

चातुर्मास पर्व

चातुर्मास पर्व यानि चार महीने का पर्व जैन धर्म का एक अहम पर्व होता है। इस दौरान एक ही स्थान पर रहकर साधना और पूजा पाठ किया जाता है। वर्षा ऋतु के चार महीने में चातुर्मास पर्व मनाया जाता है। वर्ष 2017 में जैन चातुर्मास पर्व 04 जु...

और पढ़ें »
पर्यूषण पर्व

पर्यूषण पर्व

पर्यूषण पर्व जैन धर्म का मुख्य पर्व है। श्वेतांबर इस पर्व को 8 दिन और दिगंबर संप्रदाय के जैन अनुयायी इसे दस दिन तक मनाते हैं। इस पर्व में जातक विभिन्न आसन, प्राणायाम, प्रत्याहार, धारणा, ध्यान और समाधि योग जैसी साधना तप-जप के सा...

और पढ़ें »
महावीर जयंती

महावीर जयंती

मानव समाज को अन्धकार से प्रकाश की ओर लाने वाले महापुरुष भगवान महावीर का जन्म ईसा से 599 वर्ष पूर्व चैत्र मास के शुक्ल पक्ष में त्रयोदशी तिथि को बिहार में लिच्छिवी वंश के महाराज श्री सिद्धार्थ और माता त्रिशिला देवी के यहां हुआ थ...

और पढ़ें »
दीपमलिका पर्व

दीपमलिका पर्व

दीपमलिका जैन धर्म का महत्त्वपूर्ण आध्यात्मिक पर्व है। यह पर्व जैन धर्म के चौबीसवें तीर्थंकर प्रभु ‘महावीर’ निर्वाण महोत्सव के रूप में मनाया जाता है। मान्यता है कि तीर्थंकर श्री महावीर स्वामी का कार्तिक कृष्ण चतुर्दश...

और पढ़ें »
लोकप्रिय फोटो गैलरी