नमाज़ का समय

मुस्लिम धर्म में नमाज़ का विशेष महत्व है। नमाज़ अल्लाह की इबादत करने का एक खास तरीका होता है। क़ुरआन में लिखा है कि दिन में 5 बार नमाज़ पढ़नी चाहिए। अल्लाह ने यह जमीन-आसमान बनाया, हमें जीवन दिया इन सब के लिए नमाज़ द्वारा हमें उसका शुक्रिया करना चाहिए। उसकी इबादत सच्चे मन से करनी चाहिए। वक्त से पहले और वक्त के बाद पढ़ी गई नमाज़ नहीं मानी जाती इसलिए हमेशा वक्त पर नमाज़ पढ़नी चाहिए। अपने शहर में नमाज़ का समय जानने के लिए नीचे दिए गए टूल का प्रयोग करें
As on 22 September 2017
City Fajr Sunrise Dhuhr Asr Maghrib Isha
लोकप्रिय फोटो गैलरी