संकष्टी गणेश चतुर्थी व्रत विधि

हिन्दू पंचांग के अनुसार प्रत्येक माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को "संकष्टी चतुर्थी" के नाम से जाना जाता है।

संकष्टी गणेश चतुर्थी व्रत विधि (Sankashti Ganesh Chaturthi Vrat Vidhi in Hindi)

नारद पुराण के अनुसार संकष्टी चतुर्थी के दिन व्रती को पूरे दिन का उपवास रखना चाहिए। शाम के समय संकष्टी गणेश चतुर्थी व्रत कथा को सुननी चाहिए। रात के समय चन्द्रोदय होने पर गणेश जी का पूजन कर ब्राह्मणों को भोजन कराने के बाद स्वयं भोजन करना चाहिए। इस दिन गणेश जी का व्रत-पूजन करने से धन-धान्य और आरोग्य की प्राप्ति होती है और समस्त परेशानियों से मुक्ति मिलती है।

संकष्टी गणेश चतुर्थी व्रत 2016 (Sankashti Ganesh Chaturthi Vrat 2016)

जनवरी माह में संकष्टी चतुर्थी का व्रत 27 तारीख को रखा जाएगा।

इन्हें भी पढ़ेंः-

गणेश जी की आरती पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें: Ganesh Aarti in Hindi 
गणेश जी की चालीसा पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें: Ganesh Chalisa in Hindi

हिन्दू व्रत विधियां 2017

लोकप्रिय फोटो गैलरी