माघ पूर्णिमा व्रत

पूर्णिमा का व्रत हर महीने रखा जाता है। इस दिन आकाश में चांद अपने पूर्ण रूप में दिखाई देता हैं। हर पूर्णिमा व्रत की महिमा और विधियां भिन्न होती हैं। माघ पूर्णिमा व्रत कई श्रेष्ठ यज्ञों का फल देने वाला माना जाता है।

माघ पूर्णिमा व्रत 2017 (Magh Purnima Vrat Date 2017)

वर्ष 2017 में माघ पूर्णिमा व्रत 10 फरवरी को रखा जाएगा।

माघ पूर्णिमा व्रत विधि (Magh Purnima Vrat Vidhi in Hindi)

नारद पुराण के अनुसार माघ माह में पड़ने वाली पूर्णिमा (Magh Purnima) के दिन व्रती को प्रातः स्नान कर लेना चाहिए। पूजा घर में भगवान शंकर की प्रतिमा को स्थापित कर उनकी धूम, गंध, फल, फूल दीप आदि से विधि पूर्वक पूजा करनी चाहिए। पूजा समाप्त करने के बाद तिल, सूती कपड़े, कम्बल, रत्न, कंचुक, पगड़ी, जूते आदि का शक्ति अनुसार ब्राह्मण को दान करना चाहिए।

माघ पूर्णिमा व्रत फल (Benefits of Magh Purnima Vrat in Hindi)

माघ पूर्णिमा व्रत के दिन पूरे श्रद्धाभाव से भगवान शिव की पूजा करने वाला विष्णु लोक और ब्राह्मण को दान देने वाला स्वर्ग लोक जाता है। माना जाता है कि इस दिन व्रत करने वाले पर शिव जी की विशेष कृपा रहती है।

हिन्दू व्रत विधियां 2017

लोकप्रिय फोटो गैलरी