Raftaar Home
close button



sasas

वैष्णो देवी के मंत्रVaishno devi Mantra

वैष्णो देवी के मंत्र (Goddess Vaishno Devi)

वैष्णो देवी हिन्दू धर्म की एक मुख्य देवी हैं। मान्यता है कि पहाड़ों पर बसने वाली मां वैष्णो देवी की साधना से सभी मनोरथ पूर्ण होते हैं। वैष्णो देवी की पूजा-अर्चना में निम्न मंत्रों का प्रयोग होता है, आप इन मंत्रों को पीडीएफ में डाउनलोड (PDF Download), जेपीजी रूप में (Image Save) या प्रिंट (Print) भी कर सकते हैं। इन मंत्रों को सेव करने के लिए ऊपर दिए गए बटन पर क्लिक करें:

वैष्णो देवी के मंत्र (Vaishno Devi Mantra in Hindi)

इस मंत्र का उच्चारण करते हुए माता वैष्णो देवी को पाद्य(जल) समर्पण करना चाहिए-

ॐ सर्वतीर्थ समूदभूतं पाद्यं गन्धादि-भिर्युतम् |
अनिष्ट-हर्ता गृहाणेदं भगवती भक्त-वत्सला ||
ॐ श्री वैष्णवी नमः |
पाद्योः पाद्यं समर्पयामि

Is mantra ka uchcharan karte huye Mata Vaishno Devi ko padya(Jal) samarpan karna chahiye-

Om Sarvteerth Samoodbhootam Paadyam Gandhaadi-Bhiryutam |
Anisht-Harta Grihaanedam Bhagvati Bhakt-Vatsalaa ||
Om Shri Vaishnavi Namah

************************************************************************

इस मंत्र के द्वारा माता वैष्णो देवी को दक्षिणा अर्पण करना चाहिए-

हिरण्यगर्भ-गर्भस्थं हेम बीजं विभावसोः |
अनन्तं पुण्यफ़ल दमतः शान्ति प्रयच्छ मे ||

Is mantra ke dwara Mata Vaishno Devi ko dakshina arpan karna chahiye-

Garbhstham Hem Beejam Vibhavasoh |
Anantam Punyafala Damatah Shanty Prayachchha Me ||

****************************************************************************

माता वैष्णो देवी की पूजा के दौरान इस मंत्र को पढ़ते हुए उन्हें चन्दन समर्पण करना चाहिए-

ॐ श्रीखण्ड-चन्दनं दिव्यं गन्धाढ्यं सुमनोहरम् |
विलेपन मातेश्वरी चन्दनं प्रति-गृहयन्ताम् ||

Mata Vaishno Devi ki pooja ke dauran is mantra ko padhte huye unhe chandan samarpan karna chahiye-

Om Shrikhand-Chandanam Divyam Gandhaadhyam Sumanoharam |
Vilepan Maateshwari Chandanam Prati-Grihayantaam ||

**********************************************************************

इस मंत्र के द्वारा माता वैष्णो देवी का दधि स्नान करना चाहिए-

पयस्तु वैष्णो समुद-भूतं मधुराम्लं शशि-प्रभम् |
दध्या-नीतं मया स्नानार्थ प्रति-गृहयन्ताम् ||

Is mantra ke dwara Mata Vaishno Devi ka dadhi snaan karna chahiye-

Bhootam Madhuraamlam Shashi-Prabham |
Dadhyaa-Neetam Mayaa Snaanaarth Prati Grihayantaam ||

*********************************************************************************

माता वैष्णो देवी की पूजा करते समय इस मंत्र को पढ़ते हुए उन्हें वस्त्र समर्पण करना चाहिए-

शीत-शीतोष्ण-संत्राणं लज्जाया रक्षणं परम् |
देहा-लंकारण वस्त्रमतः शान्ति प्रयच्छ मे ||

Mata Vaishno ki pooja karte samay is mantra ko padhte huye unhe vastra samarpan karna chahiye-

Sheet-Sheetoshna-Santraanam Lajjaaya Rakshanam Param |
Dehaa-Lankaaran Vastramatah Shanty Prayachchha Me ||

*************************************************************************************

इस मंत्र को पढ़ते हुए माता वैष्णो देवी को पुष्पमाला समर्पण करना चाहिए-

माल्या दीनि सुगन्धीनि माल्यादीनि वै देवी |
मया-हृताणि-पुष्पाणि गृहायन्ता पूजनाय भो ||

Is mantra ko padhte huye Mata Vaishno Devi ko pushpmala samarpan karna chahiye-

Maalya Deeni Sugandheeni Maalyaadeeni Vai Devi |
Maya-Hritaani-Pushpaani Grihayantaa Poojanaaya Bho ||

*******************************************************************************

माता वैष्णो देवी की पूजा के दौरान इस मंत्र के द्वारा उन्हें बिल्वपत्र एवं पुष्प समर्पण करना चाहिए-

बन्दारूज-नाम्बदार मन्दार प्रिये धीमहि |
मन्दार जानि पुष्पाणि रक्त-पुष्पाणि-पेहि भो ||

Mata Vaishno Devi ki pooja ke dauran is mantra ke dwara unhe Bilvapatra evam Pushp samarpn karna chahiye-

Bandaaruj-Naambdaar Mandaar Priye Dheemahi |
Mandaar Jaani Pushpaani Rakt-Pushpaani-Pehi Bho ||

***********************************************************************

माता वैष्णो देवी की पूजा के दौरान इस मंत्र का उच्चारण करते हुए उन्हें अर्घ्य समर्पण करना चाहिए-

ॐ वैष्णो देवी नमस्ते-स्तु गृहाण करूणाकरी |
अर्घ्य च फ़लं संयुक्तं गंधमाल्या-क्षतैयुतम् ||

Mata Vaishno Devi ki pooja ke dauran is mantra ka uchcharan karte huye unhe arghya samarpan karna chahiye-

Om Vaishno Devi Namaste-Stu Grihaan Karunaakaree |
Arghya Ch Falam Sanyuktam Gandhmaalya Kshataiyutam ||

********************************************************************************

इस मंत्र को पढ़ते हुए माता वैष्णो देवी की पूजा में उन्हें आसन समर्पण करना चाहिए-

ॐ विचित्र रत्न्-खचितं दिव्या-स्तरण-संयुक्तम् |
स्वर्ण-सिंहासन चारू गृहिष्व वैष्णो माँ पूजितः ||

Is mantra ko padhte huye Mata Vaishno Devi ki pooja me unhe aasan samarpan karna chahiye-

Om Vichitra Ratna-Khanchit Divyaa-Staran-Sanyuktam |
Swarn-Sinhasan Chaaru Grihishva Vaishno Maa Poojitah ||

****************************************************************************

माता वैष्णो देवी की पूजा में उनका आवाहन इस मंत्र के द्वारा करना चाहिए-

ॐ सहस्त्र शीर्षाः पुरूषः सहस्त्राक्षः सहस्त्र-पातस-भूमिग्वं सव्वेत-स्तपुत्वा यतिष्ठ दर्शागुलाम् |
आगच्छ वैष्णो देवी स्थाने-चात्र स्थिरो भव ||

Mata Vaishno Devi ki pooja me unka aavahan is mantra ke dwara karna chahiye-

Om Sahastra Sheershah Purushah Sahastrakshah Sahastra-Paatas-Bhoomigvam Savvet-Staputva Yatishth Darshaagulam |
Aagachchha Vaishno Devi Sthane-Chatra Sthiro B

Raftaar.in

<><>