चामुण्डा देवी

चामुंडा देवी हिन्दू धर्म में मां काली का रूप मानी गई हैं। पराशक्तियों की साधना करने वालों की यह देवी आराध्य हैं।

चामुंडा देवी का जन्म (Details of Chamunda Devi in Hindi)

मत्स्य पुराण के अनुसार अंधकासुर नामक राक्षस से युद्ध के समय शिवजी ने मातृकाओं को उत्पन्न किया था और इन्हीं मातृकाओं में से एक चामुण्डा देवी भी हैं। हालांकि दुर्गासप्तशती में यह कहा गया है कि चण्ड और मुण्ड का वध कर जब काली मां माता चण्डी के पास गई तो उन्होंने काली माता को चामुण्डा देवी के नाम से प्रसिद्ध होने का वरदान दिया था।

यस्माच्चण्डं च मुण्डं च गृहीत्वा त्वमुपागता॥
चामुण्डेति ततो लोके ख्याता देवि भविष्यसि॥

चामुंडा देवी के त्यौहार (Festival of Chamunda Devi in Hindi)

चामुंडा देवी की पूजा से जुड़ा सबसे बड़ा पर्व नवरात्र में होता है। इस दौरान चामुंडा देवी की साधना की जाती है। कई लोग गुप्त नवरात्र के दौरान भी मां चामुण्डा देवी की आराधना कर उन्हें प्रसन्न करने का प्रयास करते हैं। (गुप्त नवरात्र के विषय में अधिक जानकारी)

इन्हें भी पढ़े:-

चामुण्डा देवी की आरती पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें (Chamunda Devi Aarti in Hindi)
चामुण्डा देवी के मंत्र पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें (Chamunda Devi Mantra in Hindi)
चामुण्डा देवी की चालीसा पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें (Chamunda devi Chalisa in Hindi)

लोकप्रिय फोटो गैलरी