gototop
raftaarLogoraftaarLogoM
Search
Menu
BG
close button

चालीसा एवम भजन संग्रह
Chalisa & Bhajan

श्री लक्ष्मी चालीसा (Goddess Laxmi)

श्री लक्ष्मी चालीसा (Goddess Laxmi)

देवी लक्ष्मी जी को धन, समृद्धि और वैभव की देवी माना जाता है। ऐसी मान्यता है कि लक्ष्मी जी की नित्य पूजा करने से ...

और पढ़ें »
श्री दुर्गा चालीसा (Durga)

श्री दुर्गा चालीसा (Durga)

हिन्दू धर्म में दुर्गाजी को आदिशक्ति कहा जाता है। माता दुर्गा की उपासना से मनुष्य के सभी पाप धूल जाते हैं और उन्हें ...

और पढ़ें »
श्री हनुमान चालीसा (Hanuman)

श्री हनुमान चालीसा (Hanuman)

हिन्दू धर्म में हनुमान जी को वीरता, भक्ति और साहस का परिचायक माना जाता है। शिवजी के रुद्रावतार माने जाने वाले ...

और पढ़ें »
श्री गणेश चालीसा (Ganesh Chalisa in Hindi)

श्री गणेश चालीसा (Ganesh Chalisa in Hindi)

भगवान श्री गणेश हिन्दू धर्म में प्रथम पूजनीय माने जाते हैं। विघ्नहर्ता श्री गणेश की पूजा हर शुभ कार्य के आरंभ में ...

और पढ़ें »
श्री सरस्वती चालीसा (Saraswati)

श्री सरस्वती चालीसा (Saraswati)

हिंदू धर्म में माता सरस्वती को ज्ञान की देवी कहा गया है। सरस्वती जी को वाग्देवी के नाम से भी जाना जाता है। ...

और पढ़ें »
श्री लक्ष्मी चालीसा (Laxmi)

श्री लक्ष्मी चालीसा (Laxmi)

देवी लक्ष्मी जी को धन, समृद्धि और वैभव की देवी माना जाता है। ऐसी मान्यता है कि लक्ष्मी जी की नित्य पूजा करने से ...

और पढ़ें »
सूर्य चालीसा (Surya)

सूर्य चालीसा (Surya)

सूर्य देव हिन्दू धर्म के देवता हैं। वेदों के अनुसार सूर्य देव इस जगत की आत्मा है। माना जाता है कि सूर्य देव की आराधना ...

और पढ़ें »
चामुण्डा देवी की चालीसा (Chamunda devi)

चामुण्डा देवी की चालीसा (Chamunda devi)

हिन्दू मान्यतानुसार देवी दुर्गा के विभिन्न स्वरूपों में से चामुण्डा देवी प्रमुख हैं। दुर्गा सप्तशती में चामुण्डा ...

और पढ़ें »
विष्णु जी की चालीसा (Lord Vishnu)

विष्णु जी की चालीसा (Lord Vishnu)

विष्णु जी हिन्दू धर्म के देवता हैं। विष्णु जी त्रिदेवों में से एक बताए गए हैं। मान्यतानुसार जगत का पालन श्री हरि ...

और पढ़ें »
श्री राम चालीसा (Lord Ram)

श्री राम चालीसा (Lord Ram)

राजा दशरथ के घर जन्मे भगवान श्री राम को विष्णु जी का  सातवां अवतार माना जाता है। रामायण नामक धार्मिक ग्रंथ के ...

और पढ़ें »
हनुमान चालीसा अर्थ सहित (Lord Hanuman)

हनुमान चालीसा अर्थ सहित (Lord Hanuman)

हनुमान जी को प्रतिदिन याद करने और उनके मंत्र जाप करने से मनुष्य के सभी भय दूर होते हैं। हनुमान जी की साधना में ...

और पढ़ें »
काली चालीसा (Kali chalisa)

काली चालीसा (Kali chalisa)

मां काली हिन्दू धर्म की देवी हैं। इन्हें देवी दुर्गा का अवतार माना जाता है। इनका रंग काला होने के कारण ही इन्हें कालरात्रि या मां काली कहा जाता है। इनकी उत्पत्ति राक्षसों के संहार हेतु की गई थी। मान्यता के अनुसार ...

और पढ़ें »
पार्वती जी की चालीसा (Parvati Chalisa)

पार्वती जी की चालीसा (Parvati Chalisa)

हिन्दू धर्म में पार्वती जी को आदिशक्ति कहा जाता है। मान्यता के अनुसार काली, दुर्गा, अन्नपूर्णा, गौरा सब देवी पार्वती का ही रूप हैं। पार्वती जी की उपासना करने से सभी मन को शांति मिलती है तथा व्यक्ति के दुखों का अंत हो ...

और पढ़ें »
श्री शिव चालीसा (Shivji)

श्री शिव चालीसा (Shivji)

हिन्दू धर्म में त्रिदेवों की कल्पना की गई है। मान्यता है कि यही त्रिदेव विश्व के रचयिता, संचालक और पालक हैं। त्रिदेवों में भगवान ...

और पढ़ें »
श्री शनि चालीसा (Shanidev)

श्री शनि चालीसा (Shanidev)

हिंदू धर्म में शनि देव को दंडाधिकारी माना गया है। सूर्यपुत्र शनिदेव के बारे में लोगों के बीच कई मिथ्य हैं। लेकिन ...

और पढ़ें »
श्री कृष्ण चालीसा (Krishna)

श्री कृष्ण चालीसा (Krishna)

हिंदू धर्म के अनुसार श्री कृष्ण जी को भगवान विष्णु का अवतार माना जाता है। श्री कृष्ण को पूर्णावतार भी कहा जाता है ...

और पढ़ें »
श्री साँई चालीसा (Sai Baba)

श्री साँई चालीसा (Sai Baba)

शिरडी वाले साईं बाबा को हिन्दू और मुस्लिम दोनों संप्रदाय के लोग पूजते हैं। साईं बाबा ने जीवन भर मानव कल्याण के कार्य किए। भारत के बेहद पूजनीय और प्रसिद्ध संत और फकीरों में साईं बाबा का विशेष स्थान है।


और पढ़ें »
संतोषी माता की चालीसा (Santoshi Mata)

संतोषी माता की चालीसा (Santoshi Mata)

संतोषी माता को हिन्दू धर्म में गणेश जी की पुत्री माना जाता है, हालांकि इस बात का प्रमाण पुराणों में नहीं है। उत्तर भारत में माता संतोषी की पूजा के लिए शुक्रवार का व्रत करने का विधान है। शुक्रवार के दिन मां संतोषी की ...

और पढ़ें »
श्री राधा चालीसा (Radha Chalisa)

श्री राधा चालीसा (Radha Chalisa)

राधा भी हिन्दू धर्म की देवी हैं। जो चतुर्भुज विष्णु की अर्धांगिनी श्री लक्ष्मी का अवतार मानी जाती हैं। श्री राधा और कृष्ण को शाश्वत प्रेम का प्रतीक माना जाता हैं। श्री राधा जी की आराधना से सुख- शांति और सौभाग्य की ...

और पढ़ें »

Raftaar.in