कैथेड्रल चर्च ऑफ द रिडेम्पशन

नई दिल्ली में स्थित यह गिरजाघर वायसराय चर्च के नाम से भी जाना जाता है साथ ही यह गिरजाघर भारत के सबसे सुंदर और शानदार गिरजाघरों में से एक है। कैथेड्रल चर्च ऑफ द रिडेम्पशन उत्तर भारत के दिल्ली सूबे के अंतर्गत आने वाले चर्चों का एक हिस्सा है।

इतिहास (History of the Church)

कैथेड्रल चर्च ऑफ द रिडेम्पशन (Cathedral Church of the Redemption) का निर्माण कार्य सन 1927 में शुरू किया गया था और यह सन 1935 में बनकर तैयार हो गया था। सन 1936 में यह गिरजाघर आम लोगों के लिए शुरू कर दिया गया था। इस गिरजाघर की इमारत को हेनरी मेड द्वारा डिजाइन किया गया था। इस गिरजाघर को इस तरीके से बनाया गया था कि भीषण गर्मी के दिनों में भी यह ठंडा रहता है।


इस गिरजाघर में खूबसूरत घुमावदार उच्च मेहराब और नाजुक गुंबद हैं जिसने इस समय के तत्कालीन वायसराय लॉर्ड इरविन का दिल जीत लिया था। इस गिरजाघर के निर्माण के पीछे सारा बल लॉर्ड इरविन का था। इरविन ने उस समय यहां के पूर्वी छोर पर एक तस्वीर प्रस्तुत की थी और एक चांदी का क्रॉस भी इस चर्च को भेंट किया था। कैथेड्रल चर्च ऑफ द रिडेम्पशन ईसाई समुदाय में शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में गतिविधियों द्वारा मदद के कार्य करता है। कई स्कूल, कॉलेज और अस्पताल इसके सूबे के अंतर्गत चलते हैं।

लोकप्रिय फोटो गैलरी