ईसाई धर्म के धार्मिक स्थल

वेलांकन्नी

वेलांकन्नी तमिलनाडु राज्य में बसा हुआ एक छोटा सा शहर है। यह तमिलनाडु के कोरोमंडल तट पर नागपट्टिनम के 12 किमी दक्षिण में स्थित है। यहां मौजूद तीर्थस्थान वेलांकन्नी (Velankanni) है जो कि “आर लेडी ऑफ हेल्थ” (Our Lady o...

और पढ़ें »

बेसिलिका ऑफ आर लेडी

बेसिलिका ऑफ आर लेडी (Basilica of Our Lady) ऑफ रैन्सम पुर्तगाली मिशनरियों द्वारा निर्मित भारत में सबसे पुराने यूरोपियन चर्चों में से एक है। यह चर्च मूल रूप से वल्लरपडम की होली मैरी जो कि वल्लरपदथ अम्मा के रूप से लोकप्रिय थीं, को...

और पढ़ें »

मलयात्तूर चर्च

कोच्चि से 52 किलोमीटर दूर स्थित मलयात्तूर चर्च 609 मीटर ऊंची मलयात्तूर हिल के ऊपर स्थित है। मलयात्तूर चर्च (Malayattoor Chruch) सेंट थॉमस को समर्पित है। सेंट थॉमस जो कि यीशु मसीह के बारह प्रेरितों में से एक थे को यहां मलयात्तूर...

और पढ़ें »

रोमन कैथोलिक चर्च

रोमन कैथोलिक ऑफ द सेक्रेड हार्ट या सेक्रेड हार्ट कैथेड्रल एक रोमन कैथोलिक गिरजाघर है जो कि लैटिन अनुष्ठान से संबंधित है। यह चर्च नई दिल्ली के केन्द्र कनॉट प्लेस में स्थित है।

चर्च का इतिहास (History of the Churc...

और पढ़ें »

सेंट फ्रांसिस चर्च

सेंट फ्रांसिस चर्च (St. Francis Chruch) भारत में पहला यूरोपियन चर्च है जो कि पुर्तगाल के संरक्षक संत सैंटो एंटोनियो को समर्पित है। सेंट फ्रांसिस चर्च परेड रोड पर मत्तनचेरी इलाके में 2 किमी दूर पश्चिम की ओर स्थित है। यह चर्च एक ...

और पढ़ें »

सांता क्रूज कैथेड्रल

सांता क्रूज बैसिलिका, केरल के फोर्ट कोच्चि में के.बी याकूब रोड पर स्थित एक रोमन कैथोलिक कैथेड्रल है जो केरल के बेहतरीन और प्रभावशाली चर्चों में से एक है। सेंट फ्रांसिस चर्च के पास स्थित करीब यह प्रधान गिरजाघर कोचीन के सूबे में ...

और पढ़ें »

सेंट फिलोमेना चर्च

सेंट फिलोमेना चर्च कर्नाटक के मैसूर शहर में एक प्रमुख पर्यटक स्थल के रूप में प्रचलित है। सेंट फिलोमेना चर्च (Saint Philomena's Church) नव-गॉथिक शैली में सन 1936 में निर्मित किया गया और साथ ही यह भारत के सबसे ऊंचे चर्चों में...

और पढ़ें »

बेसिलिका ऑफ बॉम जीसस

बेसिलिका ऑफ बॉम जीसस गोवा का सबसे प्रसिद्ध चर्च है और दुनिया भर के ईसाइयों के बीच श्रद्धा का पात्र है। सन 1605 में निर्मित बेसिलिका ऑफ बॉम जीसस (Basilica of Bom Jesus) ईसाई वास्तुकला का एक अच्छा उदाहरण है। यह ओल्ड गोवा में राजध...

और पढ़ें »

कैथेड्रल चर्च ऑफ द रिडेम्पशन

नई दिल्ली में स्थित यह गिरजाघर वायसराय चर्च के नाम से भी जाना जाता है साथ ही यह गिरजाघर भारत के सबसे सुंदर और शानदार गिरजाघरों में से एक है। कैथेड्रल चर्च ऑफ द रिडेम्पशन उत्तर भारत के दिल्ली सूबे के अंतर्गत आने वाले चर्चों का ए...

और पढ़ें »

मर्थोमा बिशप श्राइन

मर्थोमा बिशप श्राइन (Marthoma Pontifical Shrine) ईसाइयों का प्रमुख तीर्थस्थान है जो कि मुज़ीरिस विरासत परियोजना के अंतर्गत आता है। यह चर्च केरल के अज़हीकोड गांव में पेरियार नदी के तट पर कोडुन्गल्लुर से 6 किलोमीटर की दूरी पर स्थ...

और पढ़ें »

सेंट अल्फांसो का मकबरा

भारंगनम, दक्षिण भारत में एक महत्वपूर्ण तीर्थ स्थल के रूप में प्रचलित है। यह केरल राज्य के कोट्टायम जिले में पाला के 5 किमी पूर्व की ओर मीनाछिल नदी के तट पर स्थित है। यहां के हज़ारों साल पुराने सेंट मैरी चर्च को अनाकल्लू पल्ली क...

और पढ़ें »

सेंट मेरी चर्च

सेंट मैरी चर्च चर्च (Saint Mary Church) को चिरथल्ला मुट्टम सेंट मैरी फैरोना चर्च के नाम से भी जाना जाता है। चिरथल्ला एक छोटा शहर है जो केरल के एलापुजा नामक जिले में आता है। प्राचीन समय में यह शहर केरल के मुख्य व्यापारिक केंद्रो...

और पढ़ें »
लोकप्रिय फोटो गैलरी