gototop
raftaarLogoraftaarLogoM
Search
Menu
BG
close button


RaftaarLogo
sasas
Print PageSave as PDFSave as Image

अभिधम्मAbhidhamma

अभिधम्म (Abhidhamma)

Abhidhamma- Book of Buddhism

अभिधम्म या अभिधम्म पिताका "पाली कैनन" नामक ग्रंथ का अंतिम भाग है। अभिधम्म पिताका विभिन्न बौद्ध शिक्षाओं या धम्म का वर्गीकरण और योजनाबद्ध रूप में संकलन है। यह एक व्यवस्थित दार्शनिक ग्रंथ है। 


अभिधम्म के मुख्य बिन्दु (Main Points of Abhidhamma) 


अभिधम्म पिताका में बौद्ध धर्म की जिन बिन्दुओं पर विशेष ध्यान दिया गया है वह निम्न हैं: 


* मनोविज्ञान सिद्धांत
* दर्शन शास्त्र 
* बौद्ध धर्म की कार्यप्रणाली और व्यवस्था 


महात्मा बुद्ध ने अपने जीवन में ज्ञान प्राप्ति के बाद ही अभिधम्म का संदेश दिया था। इसके बाद महात्मा बुद्ध ने विभिन्न वर्षों में अपने अनुयायियों को यह संदेश दिया। 


अभिधम्म पिताका के भाग (Parts of Abhidhamma) 


अभिधम्म पिताका के सात भाग निम्न हैं: 


* धम्मसंगिनी 
* विभांगा
* धतुखता 
* पुग्गलपंत्त्ती
* खत्वत्थु 
* यमका 
* पत्थना

Raftaar.in